पत्नी ने बड़े गले के ब्लाउज पहनना नहीं छोड़ा तो पति ने...

इंदौर। पति को पत्नी के बड़े गले का ब्लाउज पहनने पर एतराज था। उसने पहनने से रोका तो पत्नी उसे छोड़कर चली गई। उसने परिवार बचाने के लिए कुटुंब न्यायालय में गुहार लगाई। 


कोर्ट ने पति-पत्नी को समझाइश दी तो दोनों को अपनी गलतियों का अहसास हुआ और वे एक बार फिर साथ रहने को तैयार हो गए।

बजरंग नगर में रहने वाले दंपति के बीच सुलह के प्रयास 2016 में आयोजित नेशनल लोक अदालत में सफल नहीं हुए, लेकिन इस बार कोर्ट की समझाइश के बाद वे साथ रहने को तैयार हो गए। तेजाजी नगर के अमर पटेल ने नवंबर 2016 में कुटुम्ब न्यायालय में आवेदन दिया था। 




इसमें बताया गया कि पत्नी कविता बड़े गले के ब्लाउज पहनती थी। उसने इस पर आपत्ति ली तो उसने घर ही छोड़ दिया। कुटुम्ब न्यायालय के न्यायाधीश आरएन चंद ने दो दिन पहले पति-पत्नी को बुलाकर समझाइश दी। 

पति से कहा कि उसे छोटी सोच बदलना चाहिए, वहीं कविता से कहा कि वह भी पति की भावनाएं समझने की कोशिश करे। कोर्ट ने कविता से कहा वह एक दिन पति के घर रहकर आए और बताए कि वह पति का घर छोड़कर खुश है या उसके साथ रहकर। 

शनिवार को अमर और कविता कोर्ट में हाजिर हुए और अपनी गलती मानते हुए बोले वे साथ रहने को तैयार हैं।

No comments

Powered by Blogger.